• हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े पॉडकास्ट(Podcast) क्या है? Realme XT Review : इस में 64MP Quad कैमरा है, फोन को खरीदने से पहले जानने के लिए 10 मुख्य बिंदु Redmi Note 8 price and Review in india चंद्रमा के बारे में रोचक तथ्य नए ट्रैफिक नियम 2019 कॉलेज के छात्रों के लिए 12 उपयोगी वेबसाइट तनाव(डिप्रेशन) के बारे में 37 रोचक तथ्य चंद्रयान 2 के बारे में 18 रोचक तथ्य सपनों के बारे में 32 हैरान कर देने वाले तथ्य
  • Travel

    z35W7z4v9z8w
    Choose Your Language

    सपनों के बारे में 32 हैरान कर देने वाले तथ्य | 32 Surprising Facts of Dreams

    सपनों के बारे में 32 हैरान कर देने वाले तथ्य

    सपने क्या होते हैं ? यह हर कोई जानता है। पर अब सपनों के बारे में इन रोचक तथ्यों को पढ़ने के बाद आपको लगेगा कि आपका सपनो के बारे में ज्ञान बहुत कम था। 
                   
    सपनों के 32 हैरान कर देने वाले तथ्य | 32 Surprising Facts of Dreams
    sapna ke bare me 
    1. सपने हमें लक्वाग्रस्त बनाते हैं। इस पग को बताने से पहले हम आप को बता देना चाहते है कि हमारी नींद के 4 चरण होते है उन में से एक चरण है रेपिड आई मुवमेंट जा REM (Rapid eye movement)। इस अवस्था के दौरान हमारी आँखो की पुतलियाँ तेजी से हिलती हैं। इस अवस्था के दौरान हम सपने देख रहे होते हैं। सपनों की अवस्था तब आती है जब हम नींद के REM चरण में पहुँच जाते हैं। इस अवस्था के दैरान हम स्लीप पेरैलाइज का अनुभव करते हैं यानी कि इस दौरान हमारा शरीर लगभग लकवाग्रस्त सा हो जाता है। हम जागृत अवस्था में होते हैं परंतु हिलडुल नही पाते। इस अवस्था के दौरान हम सपने देखते है। हमें हमारे आसपास का वातावरण जागृत अवस्था में दिखाई देता है। इस समय हमारा दिमाग काफी सक्रीय हो जाता है। कई लोग इस अवस्था के दौरान अचानक जाग जाते हैं परंतु फिर भी हिल-डुल नही पाते। यह अवस्था 5 मिनट तक चल सकती है जब तक कि दिमाग के वे हिस्से फिर से सक्रीय न हो जाए जो शरीर के हलन-चलन के लिए आवश्यक हैं। कई लोग जिन्होंने खुद को परग्रहवासियों के अधीन हो जाने की बात कही थी, वह वास्तव में इसी अवस्था से गुजरे थे।

    2. अगर कोई इंसान आप को कहता है कि उसे सपने नही आते ते इसका मतलब वह अपने सपने भूल चुका है। 

    3. एक औसतन मनुष्य रात में 4 सपने और एक साल में 1,460 सपने देखता है।

    4. आप को कभी भी यह याद नहीं रहेगा कि आपका सपना कहां से शुरू हुआ था।

    5. आप जागने के बाद अपने आधे सपने और दस मिनट बाद 90% सपनें भूल जाते हैं।

    6. अंधे लोगो को भी सपने आते हैं। जो लोग जन्म के बाद अंधे बनते है उन्हें अपने सपनो में तस्वीरे दिखाई देती है। मगर जो जन्म से ही अंधे होते है उन्हें कोई तस्वीर नही दिखती और उनके सपनों में चीजों की आवाजे, smells, छूना और भावनाएँ ही आती हैं।

    7. सपनों में हम सिर्फ चेहरे देखते है, जो हम पहले से ही जानते होते हैं। हमारा दिमाग अपने आप चेहरे नही बनाता। सपनें में हमे सिर्फ वही चेहरे दिखते हैं जो हमने अपनी जिन्दगी जा T.V. पर देखे होते हैं।

    8. हर किसी के सपने रंगदार नही होते। सारे मनुष्य रंगदार सपने नही देखते हैं।

    9. ज्यादातर सपने चिंता और फिक्र वाले होते है। सपनो में Negative emotions, Positive से ज्यादा होते हैं।

    10. जानवर भी सपनें देखते हैं। अध्ययनों के बाद पता चला है कि जानवर भी सोते समय मनुष्यों की तरह ही दिमागी तरंगे छोड़ते है। कभी आप एक कुत्ते को सोते देखें। वह अपने पैर इस तरह से हिला रहा होगा जैसे किसी का पीछा कर रहा हो।

    11. आदमी और औरतों के सपने अलग-अलग होते हैं। लगभग 70% आदमीयों के सपनें अन्य आदमीयों के बारे में ही होते है जब कि औरतो के सपने आदमी और औरतो दोनो के बारे में होते हैं।

    12. फेड्रिक ओगस्ट ने बेनजेन (C6H6) जैसा जटिल रसायनिक फार्मूला तैयार किया वह भी सपने के आभारी है। उन्होंने अपने सपने में कुछ साँप देखे थे जो अपनी पूंछ खा रहे थे।

    13. अमरीका के 16वे राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन ने अपनी मौत से कुछ समय पहले अपनी पत्नी से कहा था, “मैने अपने सपने में कुछ लोगों को रोते देखा था”।

    14. हम सोते समय 90 मिनट में एक सपना जरूर देखते हैं और हमारा सबसे लंबा सपना सुबह आता है जो कि 30 से 45 मिनट तक का होता है।

    15. अगर सपने में किसी को गंदा पानी दिखता है तो उसका मतलब यह है कि सपना देखने वाला सेहतमंद नही है।
    सपनों के 32 हैरान कर देने वाले तथ्य | 32 Surprising Facts of Dreams
    sapna ke bare me
    16. हमारे प्राचीन वेदों में लिखा है कि यह संसार असल में एक सपना ही है और असलीयत कुछ और ही है।

    17. जब कोई व्यक्ति खराटे मार रहा हो तो वो उस समय सपने नही देख सकता।

    18. सपनें हमें सिखाते हैं। सपने जाने अनजाने हमारे बौद्धिक विकास में महत्वपूर्ण भाग निभाते हैं। REM अवस्था के दैरान हमारे दिमाग के वे हिस्से काफी सक्रीय हो जाते है जिनसे हम पढ़ना सीखते हैं, यही वजह है कि बच्चे अधिक समय तक इस अवस्था मे गुजरते हैं। सपनों के दौरान हम कई नई बातें सीखते हैं परन्तु जागने के बाद हमें इसका अहसास नही रहता। दिन में हम जो सीखते हैं, सपनों के दौरान हम उन कलाओं में पारंगत बन जाते हैं।

    19. लगभग 5 से 10 प्रतीशत लोग महीने में एकाध बार भयानक और डरावने सपने देखते है। इस तरह के सपनों में कोई हमारे पीछे भागता है। 3 से 8 साल को बच्चों को इस तरह के सपने अधिक आते हैं।

    20. इलियास होवे ने सिलाई मशीन की खोज की थी। उन्होंने अपने सपनें में खुद को आदिवासियों की कैद में देखा था जो उन्हें जलाने वाले थे। इस दौरान वे आदिवासी अपने हथियारों को अजीब तरह से सिल रहे थे। परन्तु इससे एलियास को सिलाई मशीन की तकनीक समझ में आ गई।

    21. जेम्स वाटसन जिन्होंने अपने मित्र फ्रांसिस क्रिक के साथ मिलकर D.N.A की खोज की थी का कहना था कि, “मैंने अपने सपने में ढेर सारी स्पायर सीढ़ियॉ देखी थी।”

    22. जिसका IQ जितना ज्यादा होता है, उसे उतने ही ज्यादा सपने आते हैं।

    23. छोटे बच्चों को पहले 3-4 साल तक सपने नहीं आते।

    24. सपनों के ऊपर सबसे पहली किताब मिसर में लिखी गई थी और यह लगभग 6 हज़ार साल पहले लिखी गई थी।

    25. कई लोग सोचते हैं कि दिनभर का करने के बाद दिमाग थक जाता है लेकिन लेकिन ऐसा नहीं है। दिमाग सोते समय, जगे हुए की तुलना में और ज्यादा तेजी से काम करता हैं।

    26. जो लोग सपने नहीं देखते, उन्हें “Personality Disorders” नामक बीमारी होती हैं। इस बिमारी को हिंदी में “विभाज्‍य व्‍यक्तित्‍व” कहा जाता है।

    27. कई लोगों का मानना है कि सुबह के सपने सच होते हैं लेकिन ऐसा बहुत कम होता है कि जो सपने में देखा है वही भविष्य में घटित हो गया हो।

    28. कई लोगों को नींद में चलने की बिमारी होती है। असल में ये एक मनोवैज्ञानिक बिमारी है। सही समय पर ठीक से नींद लेकर इस बिमारी की संभावना को खत्म किया जा सकता है।

    29. जब हम कोई सपना देखते हैं वह हमें उससे नहीं पता होता है कि हम जो देख रहे हैं वह एक सपना है तो उस चीज को “Lucid Dream” बोलते हैं. इस दुनिया में कुछ ऐसे लोग भी हैं जो Lucid Dream को कंट्रोल कर सकते हैं, जैसे अपनी मर्जी से सपने में उड़ना या time travel करना। Frederik van Eeden (फ्रेडरिक वैन ईडेन) ने पहली बार ‘lucid’ शब्द का अर्थ ‘मानसिक स्पष्टता’ के रूप में इस्तेमाल किया था।

    30. सपनों में कुछ भी पढ़-लिख नहीं सकते, यहां तक कि सपने में दिख रही घड़ी में समय देखना भी बेहद मुश्किल होता है।

    31. हम अपनी जिंदगी के 6 साल सपने देखने में बिता देते हैं।

    32. रात में स्वप्नदोष होने का कारण है नींद में सेक्सी सपना देखना। स्वप्नदोष होने के बाद ही हमारी आंखें खुलती है जबकि हमें पहले से पता होता है कि दोष हो रहा हैं। अगर समय-समय पर हस्तमथुन कर लिया जाए तो समस्या होने के चांस थोड़े कम होते हैं।






    Reactions:

    0 comments:

    Post a Comment

    Thanks for your feedback!!

    loading...